🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖🌖













खरगोश को अक्सर टीवी पर गाजर खाते हुए दिखाया जाता है, किताबों में अक्सर दौड़ में कछुए को जीतते हुए दिखाया जाता है। यह तो हो गयी इसकी मोटा मोटी बातें लेकिन हम आपको आज बताएंगे इसकी छोटी और बड़ी बातें जो न आपको न तो टेलीविजन पर देखने को मिलेंगी और न ही किताबों में पड़ने को।

  1. खरगोश एक बहुत प्यारा और छोटा जानवर है। इसकी लंबाई औसतन 40 – 50 सेमी और इसका वजन लगभग 1. 5 – 2. 5 किलोग्राम होता है

2.दुनिया भर मे यूरोपीय खरगोश ही पाला जाता है।हम भी जो खरगोश पालते है वो भी यूरोपियन ही है।

  1. दो किलो का खरगोश 9 किलो के कुत्ते के बराबर पानी पी सकता है।
  2. पृथ्वी पर पालतू खरगोश की लगभग 305 प्रजातियाँ और जंगली खरगोश की लगभग 13 प्रजातियाँ हैं।
  3. 1912 से पहले खरगोश को ‘रोडेंट्स’ यानी चूहे, गिलहरी आदि की श्रेणी में रखा जाता था फिर इन्हें ‘लेगोमार्फ’ यानि खरहा (hare) और पिका वाली श्रेणी में डाल दिया गया।
  4. खरगोश को पूरे शरीर मे सिर्फ उसके पैरों की तली के माध्यम से ही पसीना आता हैं।
  5. खरगोश के जबड़े में 28 दांत होते हैं और आकर्षक बात ये है कि उनके दांत जीवनभर बढ़ते रहते हैं जो हर महीने 1 सेंटीमीटर तक बढ़ जाते हैं।
  6. जंगली खरगोश की आयु लगभग 1 – 2 वर्ष की और पालतू खरगोश की आयु 8 – 10 वर्ष की होती है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया में एक खरगोश लगभग 18 साल तक जीवित रहा, जो कि एक विश्व रिकॉर्ड हैं।
  7. खरगोश का प्रजनन: खरगोश का गर्भावस्था काल लगभग 30 – 32 दिनों का होता है। मादा खरगोश साल में कम से कम चार बार और एक बार में औसतन 3 – 7 बच्चे देती हैं। जन्म के समय खरगोश के बच्चे बिना बाल के पैदा होते हैं और उनकी आंखें तब तक नही खुलती जब तक वे लगभग 2 सप्ताह के नही हो जाते और लगभग 8 सप्ताह बाद वो अपनी माँ का दूध पीना छोड़ते है।
  8. खरगोश खाने में लगभग 6 – 8 घंटे खर्च करता हैं, और एक मिनट में लगभग 120 बार खाना चबाता हैं।













11.खरगोश लगभग लगभग 360 डिग्री तक देख सकता है,लेकिन उसकी नाक से ठीक नीचे एक ब्लाइंड स्पॉट होता है।इसीलिये खरगोश जो भोजन खाता है उसे दिखाई नही देता वो केवल सूंघकर उसका पता लगाता है।

  1. खरगोश का खाना: ये शाकाहारी होते हैं। ये घास, गाजर, फल, अनाज आदि खाते हैं। और “कुत्ता, बिल्ली, लोमड़ी, साँप” इत्यादि इन्हें खा जाते हैं।

13.खरगोश भी घोड़ों की तरह उल्टी नहीं कर सकते।

  1. हालांकि दुनियाभर में खरगोश सबसे ज्यादा इंसानों के हाथों ही मारा जाता है। इसके मीट और फर के लिए हर साल लगभग 1 बिलियन खरगोश को मारा जाता है। “चीन” पूरे विश्व में खरगोश के माँस का सबसे बड़ा उत्पादक हैं। पूरे विश्व का 40 प्रतिशत खरगोश के माँस का उत्पादन अकेले चीन में ही होता है।
  2. खरगोश एक बार में अपने एक कान को भी हिला सकता है और ठंड से बचने के लिए यह अपने बाहरी कान को मोड़ भी लेता है यही कारण हैं कि खरगोश ठंड के बजाय गर्मियों में बेहतर सुन सकते हैं।
  3. खरगोश 1 दिन में 18 झपकी लेता है और कुल 8 घंटे सोता हैं और यह अपनी आंखे खोल कर भी सो सकता हैं।
  4. खरगोश, साल में चार बार हर तीन महीने में एक बार अपना रोआं बदलता हैं। गर्मियों के अंत वाले और सर्दियों के अंत वाले रोए बदलना काफी कठिन होता है बाकी दो तो हल्के – फुल्के होते है।
  5. इंसानों के पास 9000 जबकि खरगोशों के पास 14000 स्वाद कलिकाएँ होती है।
  6. खरगोश की ठोड़ी के नीचे एक सुगंध की ग्रंथि होती है जिसे वह जब भी किसी चीज पर रगड़ते हैं तो उस वस्तु में भी वही सुंगध उठ जाटी है। ये ऐसे अपने क्षेत्र की पहचान करने के लिए और किसी चीज़ पर अपना हक जताने के लिए करते हैं।
  7. खरगोश 35 – 40 किमी प्रति घंटे की गति से दौड़ता है। लेकिन इसकी सबसे तेज गति से भागने वाली प्रजाति जैकब्राफ्ट 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से भी दौड़ सकती है। खरगोश अपने दुश्मनों से बचने के लिए कभी भी सीधा नहीं दौड़ता हैं बल्कि हमेशा टेढ़ा मेढ़ा (zig-zag) दौड़ता हैं।
  8. एक जंगली खरगोश का क्षेत्र 30 टेनिस कोर्ट जितना बड़ा होता है। 22.खरगोश की आधी से ज्यादा आबादी नार्थ अमेरिका में रहती है 23 नर खरगोश को buck, मादा को does और बच्चे को kit या kitten कहते है और खरगोश के एक समूह को कॉलोनी कहते हैं। 24 .यूरोप के बहुत सारे हिस्सो में लोग खरगोश के पैर को अपने गले में पहनते हैं वहाँ ऐसा करना अच्छी किस्मत का प्रतीक हैं।













25.खरगोश अपने दूसरे साथी को सावधान करने के लिए अक्सर अपने पैर जमीन पर जोर – जोर से पटकता हैं।

  1. यदि।आपको कभी खरगोश हवा में उछल कर पटखनी खाते दिखे तो समझिए, वह अपनी खुशी जाहिर कर रही है।
  1. किसी खरगोश द्वारा एक बार में सबसे ज्यादा बच्चे पैदा करने का रिकॉर्ड 24 बच्चों का हैं। और ये दो बार हुआ है एक बार 1978 में और एक बार 1999 में।
  2. खरगोश के कान की लंबाई लगभग 4 इंच तक होती है। लेकिन सबसे लंबे कानों वाला खरगोश, जिसका नाम ‘निप्पर्स गेरिनिमो’ था, के कान की लंबाई 31.1 इंच नापी गई थी जो कि एक विश्व रिकॉर्ड है।
  3. दुनिया का सबसे छोटा खरगोश अमेरिका की ‘ऑरेगोन जू में पाया गया “पिगमीपोर्ट” हैं, जिसकी लंबाई एक हथेली से भी कम हैं। और दुनिया का सबसे बड़ा खरगोश भी अमेरिका में ही पाया गया था। जिसका नाम “डेरियस” है। इसकी लंबाई 4 फीट 4 इंच और वजन लगभग 22 किलो है।
  4. किसी खरगोश द्वारा ऊंचा कूदने का रिकॉर्ड 99.5 सेमी (39.2 इंच) का है। इसे डेनमार्क के एक खरगोश “मिम्रेलंड्स टसेन” ने 28 जून 1997 को बनाया था। काले और सफेद रंग का यह खरगोश डेनमार्क के एक क्लब का सदस्य था।
  5. किसी खरगोश द्वारा लंबी छलांग लगाने का रिकॉर्ड 3 मीटर (9 फीट 9.6 इंच) का है। इसे भी डेनमार्क के ही खरगोश ‘याबो’ ने 12 जून 1999 को बनाया था।