महत्त्वपूर्ण युग्म–शब्द :

• अंगार – अंगारे

  अगार – आगे

• अंचल – साड़ी का छोर

  अंचला – साधुओँ का एक वस्त्र

• अंचित – गूंथा हुआ, पूजित

  अचित् – जड़, चेतन रहित

• अंजित – काजलयुक्त

  अजित – जो जीता न गया हो

• अंजन – काजल

  अजन – अजन्मा, निर्जन

• अंतर – फर्क

  अतर – इत्र

• अंगद – बालिपुत्र, बाजूबन्द

  अगद – नीरोग

• अनल – आग

  अनिल – हवा

• अचल – पर्वत

  अचला – पृथ्वी

• अचर – न चलने वाला

  अचिर – शीघ्र, नवीन

• अथक – जो न थकता हो

  अकथ – अकथनीय

• अनादि – जिसका आरम्भ नहीँ है

  अन्नादि – अन्न वगैरह

• अभिहित – कहा हुआ

  अविहित – अनुचित

• अपत्य – संतान

  अपथ्य – निषिद्ध भोजन

• अर्थ – धन

  अर्द्ध – आधा

• अनिष्ट – बुरा

  अनिष्ठ – निष्ठा रहित

• अनु – पीछे

  अणु – छोटा कण

• अविराम – लगातार

  अभिराम – सुन्दर

• अर्चन – पूजा

  अर्जन – संग्रह

• अंस – कन्धा

  अंश – हिस्सा

• अवलम्ब – सहारा

  अविलम्ब – शीघ्र

• अविज्ञ – मूर्ख

  अभिज्ञ – विद्वान

• अन्त – समाप्ति

  अन्त्य – अन्तिम

• अजर – जवान, देवता

  अजिर – आँगन, बाड़ा

• अभिनय – अनुकरण

  अभिनव – नया

• अपर – दूसरा

  अवर – नीचे का

• अपहार – अपहरण

  उपहार – भेँट

• अब्ज – कमल

  अब्द – वर्ष

• अभद्य – भेद का अभाव

  अभेद्य – जो तोड़ा न जा सके

• अमल – बिना मैल

  अम्ल – तेजाब

• अमूल – बिना जड़ का

  अमूल्य – अनमोल

• अवयव – अंग

  अव्यय – अविकारी शब्द

• अवरोध – रुकावट

  अविरोध – बिना विरोध के

• अशोच – शोक रहित

  अशौच – अशुद्ध

• अलि – भौँरा

  आली – सखी

• अम्बुज – कमल

  अम्बुद – बादल

• अशीलता – दुराचरण

  असिलता – तलवार

• अनूदित – अनुवाद किया हुआ

  अनुद्यत – तैयार न होना

• अवदान – योगदान

  अवधान – ध्यान देना

• अम्ब – आम्र वृक्ष

  अम्भ – जल

• अर्घ – मूल्य

  अर्घ्य – पूजा

• अरि – शत्रु

  अरी – संबोधन (स्त्री.)

• अचार – आम आदि का अचार

  आचार – आचरण

• अगम – पहुँच से बाहर

  आगम – उत्पत्ति शास्त्र

• अतल – तल रहित

  अतुल – बिना तुलना के

  आतुल – अनुभव

• अपमान – निरादर

  उपमान – जिससे समानता

• अपेक्षा – तुलना मेँ

  उपेक्षा – तिरस्कार

• अग – न जलने वाला

  आग – अग्नि

• अगत – बुरी गति

  आगत – आया हुआ

• अगर – यदि, एक वृक्ष

  आगर – समूह

• अगला – आगे का

  अर्गला – सिटकनी – रोपने की कील

• अजन्म – जिसका जन्म न हो

  आजन्म – जीवन भर

• अजय – जो न जीता जाये

  अजया – भांग, बकरी

• अतन्त्र – तन्तुहीन, नियंत्रण रहित

  अतन्द्र – आलस्य रहित

• अक्ष – धुरी

  अक्षि – आँख

• अवधि – नियत समय

  अवधी – एक बोली

• अग – स्थिर

  अघ – पाप

• अवन – नीचे उतारना

  अवनि – धरती

• असक्त – असमर्थ

  आसक्त – मोहित

• अजु – सरल

  रज्जु – रस्सी

• अभय – भय रहित

  उभय – दोनोँ

• अयुक्त – अनुचित

  आयुक्त – कमीश्नर

• अनुसार – अनुरूप

  अनुस्वार – ( ं /ँ )

• अस्त – डूब जाना

  अस्तु – अच्छा, खैर

• अपकार – बुराई करना

  उपकार – भलाई करना

• अन्न – अनाज

  अन्य – दूसरा

• असित – काला

  अशित – खाया हुआ

• अंक – गोद

  अंग – देह का भाग

• अश्व – घोड़ा

  अश्म – पत्थर

• अपचार – अपराध

  उपचार – इलाज

• अन्याय – गैर-इंसाफी

  अन्यान्य – दूसरे-दूसरे

• अवसान – अंत

  आसान – सरल

• आकर – खजाना

  आकार – बनावट

• आभरण – गहना

  आवरण – ढकना

• आदि – प्रारम्भ

  आदी – अभ्यस्त, आदत

• आसन – बिछौना

  आसन्न – समीप

• आधि – मानसिक कष्ट

  आधी – आधा का स्त्रीलिँग

• आर्त्त – दुःख

  आर्द्र – गीला

  आर्द्रा – एक नक्षत्र

• आपात – पतन

  आपाद – चरण से

• आभार – अहसान

  अभार – भार से रहित

• आभाष – भूमिका

  आभास – झलक

• आयत – विशाल, एक चतुर्भुज

  आयात – विदेशी माल मंगाना

• आर्द्र – गीला

  आद्रा – अदरक – एक नक्षत्र

• आलय – घर

  अलेय – जिसका लय न हुआ हो

• आहुति – बलि, हवन की चीज

  आहूति – बुलाना

• आयास – प्रयत्न

  आवास – निवास

• आवृत्ति – दोहराना

  आवृत – घिरा हुआ

• इतर – दूसरा

  इत्र – पुष्पसार

• इति – समाप्ति

  ईति – दैव आपत्ति

• इन्दरा – इंद्र की पत्नी

  इन्दिरा – लक्ष्मी

• उर – हृदय

  उरु – बड़ा, विस्तृत

• उबारना – बचाना

  उभारना – ऊँचा उठाना

• उद्धत – उदण्ड

  उद्यत – तैयार

• उत्पल – कमल

  उपल – पत्थर

• उद्योत – प्रकाश

  उद्योग – उपाय

• उतर – नीचे आना

  उत्तर – जवाब

• उद्धरण – वाक्य का वैसा ही कथन

  उदाहरण – मिसाल

• उधार – देय राशि

  उद्धार – ऊपर उठाना

• उन – वे का विकार

  ऊन – भेड़ आदि के बाल

• ऋत – सत्य

  ऋतु – मौसम

• ओर – तरफ

  और – दूसरा, तथा

• कंथा – गुदड़ी

  कथा – कहानी

  कत्था – एक पेड़ की छाल

• कच – बाल

  कुच – स्तन

  कूच – प्रस्थान

• कटक – सेना

  कंटक – काँटा

• कटिबद्ध – तैयार

  कटिबन्ध – कमर का एक आभूषण

• कलि – कलियुग

  कली – कोँपल

• करि – हाथी

  कीर – तोता

• कलित – सुन्दर, युक्त

  कीलित – कील जड़ा

• कपिश – मटमैला रंग

  कपीश – हनुमान, सुग्रीव

• कंज – कमल

  कुंज – लता, मण्डप

• क्रम – सिलसिला

  कर्म – कार्य

• कल – मशीन

  काल – समय

• कंकाल – अस्थिपिँजर

  कंगाल – निर्धन

• करकट – कचरा

  कर्कट – केकड़ा

• करोड़ – 100 लाख

  क्रोड़ – गोद

• कड़ी – कठोर

  कढ़ी – दही-बेसन का साग

• कड़ाई – कठोरता

  कढ़ाई – काठने की क्रिया

• कटौती – कमी करना

  कठौती – काष्ठ का पात्र

• कलुष – पाप

  कुलिश – वज्र

  कलश – मटका

• कांत – पति

  क्लांत – थका हुआ

• कान – श्रवणेन्द्रिय

  कानि – मर्यादा

• कान्ति – चमक

  क्रान्ति – सम्पूर्ण परिवर्तन

• किटि – सुअर

  कीट – कीड़ा

  कटि – कमर

• कुंडल – एक गहना

  कुंतल – सिर के बाल

• कुल – वंश, योग

  कूल – किनारा

• कुट – घर, किला

  कूट – पर्वत

• कुजन – दुर्जन

  कूजन – पक्षियों का कलरव

• कूर – कायर

  क्रूर – निर्दयी

• केत – घर

  केतु – पताका, ध्वजा

• केसर – सिँह की गर्दन के बाल

  केशर – एक सुगन्धित पुष्प

• कोर – किनारा

  कौर – ग्रास

• कोस – दूर की माप

  कोश – खजाना

• कोशल – अयोध्या का प्रदेश

  कौशल – निपुणता

• कृत – किया हुआ

  क्रीत – खरीदा हुआ

• कृति – रचना

  कृती – रचनाकार, चतुर

• कृपण – कंजूस

  कृपाण – तलवार

• कृमि – कीट

  कृषि – खेती

• क्षति – नुकसान

  क्षिति – पृथ्वी

• क्ष्मा – पृथ्वी

  क्षमा – माफ करना

• खर – गधा

  खुर – पशु के खुर

• खाद – उर्वरक

  खाद्य – खाने योग्य वस्तु

• गट्टा – कलाई

  गट्ठा – गट्ठर

• गड़ना – चुभना

  गढ़ना – बनाना

• गदहा – वैद्य

  गधा – गर्दभ

• गण – समूह

  गण्य – गिने जाने योग्य

• गत – बीता हुआ

  गति – चाल

• गाड़ी – यान

  गाढ़ी – गहरी

• गुँथना – माला पिरोना

  गुँदना – आटा सानना

• गुर – उपाय

  गुरु – शिक्षक, भारी

• गुटका – छोटी पुस्तक

  गुटिका – गोली

• गृह – घर

  ग्रह – सूर्य के चारोँ ओर घूमने वाले पिँड

• ग्रंथ – पुस्तक

  ग्रंथि – गाँठ

• गर्व – घमण्ड

  गर्भ – आन्तरिक भाग

• घन – बादल

  घना – गाढ़ा

• घट – घड़ा

  घाट – नदी का तट

• चर्म – चमड़ा

  चरम – अन्तिम

• चरण – पैर

  चारण – एक जाति

• चक्रवाक – चकवा पक्षी

  चक्रवात – बवंडर

• चतुष्पद – चौपाया

  चतुष्पथ – चौराहा

• चित – सिर के बाल

  चित्त – मन

• चिता – दाह संस्कार के लिए लकड़ियाँ

  चिँता – फिक्र

• चिर – अधिक काल

  चीर – वस्त्र

  चीड़ – एक वृक्ष

• छत – मकान की छत

  छात्र – बड़ा छाता

  क्षत – घाव

• जर – बुढ़ापा

  जरा – पृथ्वी, थोड़ा

• जगत् – संसार

  जगत – कुएँ का चौँतरा

• जघन – जांघ

  जघन्य – नीच

• जलद – बादल

  जलज – कमल

• जरठ – अति वृद्ध

  जठर – पेट

• जलना – बलना

  झलना – हवा करना

• जलाना – ज्वलित करना

  जिलाना – जीवनदान देना

• जवान – युवक

  जबान – जीभ

• जाम – प्याला

  याम – प्रहर

• जामन – दूध जमाने का दही

  जामुन – एक फल

• डीठ – दृष्टि

  ढीठ – जिद्दी

• ढलाई – ढालने की क्रिया

  ढिलाई – शिथिलता

• तरंग – लहर

  तुरंग – घोड़ा

• तर्क – दलील, बहस

  तक्र – छाछ

• तप्त – गरम

  तृप्त – संतुष्ट

• तरणि – सूर्य

  तरणी – नाव

  तरुणी – युवती

  तरनी – खोमचा रखने का डमरु की शक्ल का पात्र

• तम – अंधकार

  तोम – समूह

• तन – शरीर

  तनु – पतली

• तड़ाक – शीघ्र

  तड़ाग – तालाब

• तर – गीला

  तरु – पेड़

• तरि – नौका

  तरी – गीलापन

• थन – स्तन

  थल – रेगिस्तान

• दंश – डंक

  दश – दस

• दशा – अवस्था

  दिशा – ओर

• दमन – दबाना, निग्रह

  दामन – पहाड़ के नीचे का भाग

• द्रव्य – धन

  द्रव – पतला

• दग्ध – जला हुआ

  दुग्ध – दूध

• दारा – स्त्री

  द्वारा – माध्यम

• दिन – दिवस

  दीन – गरीब

• दिवा – दिन

  दीवा – दिया

• द्विप – हाथी

  द्वीप – टापू

  दीप – दीया

• दूत – संदेशवाहक

  द्यूत – जुआ

• देव – देवता

  दैव – भाग्य

• दोष – अवगुण

  द्वैष – वैर

• दोषी – अपराधी

  दोषा – रात्रि

• धन – रुपया-पैसा

  धन्य – पुण्यवान

• धरा – पृथ्वी

  धारा – प्रवाह

• धनि – गृहिणी

  धनी – धनवान

  धणी – स्वामी

• नकल – अनुकरण, प्रतिलिपि

  नकुल – नेवला

• नद – बड़ी नदी

  नाद – ध्वनि

• नग – पर्वत

  नाग – सर्प, हाथी

• नत – झुका हुआ

  नट – खेल-तमाशे दिखाने वाली एक जाति

• नम – गीला

  नम्र – विनीत

• नक्र – मगरमच्छ

  नर्क – नरक

• नावक – छोटा बाण

  नाविक – केवट

• नारी – स्त्री

  नाड़ी – नब्ज

• निगम – संस्था

  निर्गम – निकास

• निधन – मृत्यु

  निर्धन – गरीब

• निर्जर – देवता

  निर्झर – झरना

• निर्माण – रचना

  निर्वाण – मोक्ष

• निहत – मरा हुआ

  निहित – छिपा हुआ

• नियत – निश्चित

  नियति – सोच, भाग्य

• निश्चल – अचल

  निश्छल – छल रहित

• निमंत्रण – न्यौता

  नियंत्रण – बंधन

• नीर – पानी

  नीड़ – घोँसला

• नीरद – बादल

  नीरधि – समुद्र

• नीरज – कमल

  नीरव – निःशब्द, सुनसान

• नीम – एक पेड़

  नीँव – मकान की जड़

• नेक – अच्छा

  नेकु – तनिक

• परिषद – सभा

  परिषद् – सभासद

• प्रभाव – असर

  पराभव – हार

• प्रहार – चोट करना

  परिहार – समाधान करना

• परुष – कठोर

  पुरुष – मनुष्य, नर

• प्रकृत – पदार्थ

  प्रकृति – स्वभाव

• पर्जन्य – बादल

  परजन – शत्रु, अन्य व्यक्ति

• प्रदीप – दीपक

  प्रतीप – उल्टा

• प्रणय – प्रेम

  प्रणत – झुका हुआ

• प्रसाद – कृपा

  प्रासाद – महल

• प्रकार – तरीका

  प्राकार – परकोटा

• प्रवाह – बहाव

  प्रभाव – महत्त्व

• प्रथा – परम्परा

  पृथा – कुन्ती

• प्रणीत – रचित

  परिणीत – विवाहित

• पवन – हवा

  पावन – पवित्र

• परिणाम – नतीजा

  परिमाण – मात्रा

• प्रमाण – सबूत, नाप

  प्रणाम – नमस्कार

• प्रतीहार – द्वारपाल

  प्रत्याहार – वापस चलना

• पानी – जल

  पाणि – हाथ

• पावस – वर्षा

  पायस – खीर

• परिमित – अल्प

  परिमिति – सीमा

• परिच्छिद – वेशभूषा

  परिच्छेद – अध्याय

• प्रेषित – भेजा हुआ

  प्रोषित – प्रवासी

• पाश – फन्दा

  पास – समीप

• पुष्कर – जलाशय

  पुष्कल – बहुत

• पालतु – पाला हुआ

  पलातु – पालने योग्य

• पथ – रास्ता

  पथ्य – रोगी का भोजन

• प्रकृत – नैसर्गिक

  प्राकृत – सामान्य भाषा

• पट्ट – तख्ता

  पट – कपड़ा

• पतन – गिरावट

  पत्तन – कस्बा, नगर

• पति – घरवाला

  पत्ती – हिस्सा, पेड़ की पत्ती

• पद – ओहदा

  पद्य – काव्य

• परिवर्तन – बदलाव

  प्रवर्तन – उकसाव

• प्रबल – जबरदस्त

  प्रवर – सबसे बड़ा

• प्राप्त – मिला

  पर्याप्त – काफी

• फण – साँप का फन

  फन – कला

• बलि – भेँट

  बली – बलवान

• बहन – भगिनी

  वहन – ढोना

• बहु – बहुत

  बहू – पुत्रवधु

• बलाक – बगुला

  बलाहक – बादल

• ब्याल – सर्प

  ब्यालू – रात्रि का भोजन

• बाड़ – ओट

  बाढ़ – अतिजल प्रवाह

• बुरा – खराब

  बूरा – कच्ची चीनी

• बेर – एक फल

  बैर – शत्रुता

• भट – योद्धा

  भट्ट – पंडित

• भवन – मकान, घर

  भुवन – संसार, लोक

• भाग – हिस्सा

  भाग्य – तकदीर

• भाल – मस्तक

  भालू – रीँछ

• भित्ति – दीवार

  भीति – डर

• मत – राय

  मति – बुद्धि

• मणि – रत्न

  मणी – साँप की मणी

  मण – तोल का एक माप (1 मण = 40 किलो)

• मद – अभिमान

  मद्य – शराब

• मनुज – मानव

  मनोज – कामदेव

• मरीचि – किरण

  मरीची – सूर्य

• मण्डित – सुशोभित

  मुण्डित – मुंडा हुआ

• मन्दर – एक पर्वत

  मन्दिर पूजा स्थल

• मन्दी – धीमी

  मण्डी – हाट

• मलिन – मैला

  म्लान – मुरझाया हुआ

• मातृ – माता

  मात्र – केवल

• मिट्टी – धूल

  मिट्ठी – चुम्बन

• मिश्र – मिला हुआ

  मिस्र – देश का नाम

• मुक्त – छोड़ा गया

  भुक्त – भोगा हुआ

• मुकुर – दर्पण

  मुकुट – ताज

• मूल – जड़, मुख्य

  मूल्य – कीमत

• मेघ – बादल

  मेध – यज्ञ

• मोर – मयूर पक्षी

  मौर – मुकुट

• युक्ति – उपाय, तरकीब

  उक्ति – कथन

• योग – मन का ठहराव

  योग्य – लायक

• रवि – सूर्य

  रव – शोर

• राज – शासन

  राजा – शासक

• रीति – परम्परा

  रीता – खाली

• लक्ष – लाख

  लक्ष्य – उद्देश्य, निशाना

• लगन – चाव, उत्साह

  लग्न – शुभ मुहूर्त

• ललित – सुंदर

  ललिता – गोपी

• लोभ – लालच

  लोम – रोम

• व्रत – उपवास

  वृत्त – घेरा

  वृन्द – समूह

• वसन – वस्त्र

  व्यसन – बुरी आदत

  बसन – बसना

• वन – जंगल

  वन्य – जंगली

• वस्तु – चीज

  वास्तु – मकान

• वदन – मुख

  बदन – देह

• वर्ण – रंग

  व्रण – घाव

• वरण – चुनाव

  वरुण – एक देवता

• व्यंग – विकलांग

  व्यंग्य – कटाक्ष

• व्यंजन – पकवान

  व्यजन – पंखा

  विजन – एकान्त

• व्याध – शिकारी

  व्याधि – रोग

• वात – वायु

  बात – बातचीत

• वाम – टेढ़ा

  वामा – स्त्री

• वारिद – बादल

  वारिधि – समुद्र

• विष – जहर

  विस – कमलनाल

  विश्व – दुनिया

• विधि – ढंग, ब्रह्मा

  विधु – चन्द्रमा

• विवरण – वृतान्त

  विवर्ण – विकृत रंग

• विदुर – पण्डित

  विधुर – जिसकी पत्नी मर गई हो

• शंकर – शिव

  संकर – मिश्रित

• शर – बाण

  सर – तालाब

• शकल – टुकड़ा

  सकल – सम्पूर्ण

• शम – शान्ति

  सम – समान

• शस्त्र – हथियार

  शास्त्र – धर्म ग्रन्थ

• शप्त – शापित

  सप्त – सात

• शशधर – चन्द्रमा

  शशिधर – शंकर

• शकृत – विष्टा

  सकृत – एक बार

• शाला – स्थान

  साला – पत्नी का भाई

• शान्त – चुप

  सान्त – अन्त सहित

• शित – सफेद

  शीत – ठण्ड

• शिरा – नाड़ी

  सिरा – छोर

• शुभ – मंगलप्रद

  शुभ्र – उज्ज्वल

• शुक – तोता

  शुक्र – शक्ति, दैत्य, गुरु

• शूर – वीर

  सूर – सूर्य

  शूल – काँटा

• शुल्क – फीस

  शल्क – छाल

  शुक्ल – सफेद

• शूचि – पवित्र

  शचि – इन्द्र की पत्नी

• शोक – वियोग, दुःख

  शौक – चाव, लगन

• शौर्य – वीरता

  सौर, सौर्य – सूर्य सम्बन्धी

• श्वजन – कुत्ता

  स्वजन – अपने आदमी

• श्वेद – पसीना

  श्वेत – सफेद

• श्रवण – सुनना

  श्रामण – जैन भिक्षु

• श्राद्ध – पितरोँ का श्राद्ध

  श्रद्धा – पूज्य भाव

• षष्टि – साठ

  षष्ठी – छठी

•संग – साथ

  संघ – समूह

• संदेह – शक

  सदेह – शरीर के साथ

• सखी – सहेली

  साखी – दोहा

  सुखी – सुख वाला

• सर्ग – अध्याय

  स्वर्ग – देवलोक

• सज्जा – सजावट

  सजा – अलंकृत, दण्ड

• सती – साध्वी

  शती – सौ साल

• सहसा – अचानक

  साहस – हिम्मत

• सर्वथा – सब प्रकार से

  सर्वदा – हमेशा

• संवत् – देशी वर्ष

  सम्मत – सलाह के अनुकूल

• समिति – सभा

  सम्मति – सलाह

  सन्मति – अच्छी बुद्धि

• साँस – श्वास, प्राण

  सास – पति या पत्नी की माँ

• सिर – शीश

  सिरा – छोर

• सिता – शक्कर

  सीता – राम की पत्नी

• सुत – बेटा

  सूत – सारथी, रुई का धागा

• सुगंध – खुशबू

  सौगंध – कसम, प्रतिज्ञा

• सुधि – होश

  सुधी – बुद्धिमान

• सूचि – सुई

  सूची – सारणी

• स्वपच – ब्राह्मण

  श्वपच – चाण्डाल

• स्रोत – प्रवाह

  श्रोत्र – कान

• हरण – ले जाना

  हरिण – मृग

• हरि – विष्णु

  हरी – हरे रंग की

• हस्त – हाथ

  हस्ति – हाथी

• हल – व्यंजन

  हल – समाधान

• हट – परे हो

  हठ – जिद्द

• ह्रास – कमी

  हास – हँसी

• ह्रद – तालाब

  हृद् – हृदय

• हितू – उपकारी

  हेतु – कारण

• हिम – बर्फ

  हेम – स्वर्ण

• हिय – हृदय

  हय – घोड़ा

• क्ष्मा – पृथ्वी

  क्षमा – माफ करना

• ज्ञेय – जानने योग्य

  गेय – गाने योग्य