3- #आधुनिक/पाश्चात्य अलंकार

1- मानवीकरण (Personification)

2- ध्वन्यर्थ व्यंजना (Onomatopia)

3- विशेषण विपर्यय (Transferred epithet)

1- मानवीकरण अलंकार-
अमानव(प्रकृति, पशु-पक्षी व निर्जीव पदार्थ) में मानवीय गुणों का आरोपण

उदा. जगी वनस्पतियाँ अलसाई|

अलसाना मानवीय गुण है इसका आरोपण वनस्पति पर किया गया है|

2- ध्वन्यर्थ व्यंजना अलंकार- जब ध्वनि चित्र अंकित हो जाये
उदा.
चरर-मरार चूं, चरर-मरर

जा रही चली देखों भैंसा गाड़ी।

स्पष्टीकरण- यहाँ गाड़ी के चलने से उत्पन्न ध्वनि चित्र (चर-मरर चूं) को चित्रित किया गया है।

3- विशेषण विपर्यय अलंकार- विशेषण का विपर्यय(स्थान बदल देना) कर देना

उदा. इस करुणा कलित हृदय में,

अब विकल रागिनी बजती।

स्पष्टीकरण- यहाँ ’विकल’ शब्द हृदय का विशेषण है परन्तु उसे रागिनी का विशेष बनाकर प्रयुक्त किया गया है।